स्वास्थ्य मंत्री के सामने सुपेबेड़ा प्रेमप्रकाश ने बयान किया दर्द के

स्वास्थ्य मंत्री के सामने सुपेबेड़ा प्रेमप्रकाश ने बयान किया दर्द के

देवभोग, स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव जहाँ किडनी प्रभावित गांव के लोगों को वहाँ की सरकार जीविका चलाने के लिए 15 हजार की मदद कर रही है, जिसके चलते किडनी पीड़ितों को जीविका चलाने में परेशानी का सामना नहीं करना पड़ रहा हैं। वहीं प्रेमप्रकाश की बातों को सुनने के बाद स्वास्थ्य मंत्री ने आपके साथ हैं। उन्हें भरोशा दिलाया कि वे इस सम्बन्ध में मुख्यमंत्री के पास ग्रामीणों की बातों को रखेंगे।

आज सुपेबेडा के दौरे पर रहे। मंत्री ने सबसे पहले गांव के लिए बनने वाले उपस्वास्थ केंद्र भवन का भूमिपूजन किया। इसके बाद स्वास्थ्य मंत्री ग्रामीणों से मुलाकात करने गांव में बने मंच पर पहुँचे। मंत्री टीएस सिंहदेव के मंच पर पहुंचते ही ग्रामीणों ने मंत्री के सामने अपना दर्द बयां करना शुरू किया। गांव के प्रेमप्रकाश क्षेत्रपाल ने मंत्री को मैंने मेरे परिवार के 10 लोगों को खो दिया हैं। पहले किडनी की बीमारी से पिताजी की तबीयत बिगड़ी, उनका इलाज करवाने के लिए दो चार पहिया वाहन वेच दिया, लेकिन पिता को बचा ना सका। अब भाई किडनी की बीमारी से जूझ रहा है। घर की माली हालत इतनी खराब हो गई है कि अब मुझे दुपहिया वाहन बेचकर भाई के इलाज के लिए पैसा लगाना पड़ रहा हैं। परिवार में किडनी की बीमारी से 10 सदस्यों को खो चुका हूँ। अब हौसला टूटने लगा हैं। बिना सरकारी मदद के इलाज और परिवार चलाना मुश्किल है। प्रेमप्रकाश ने मंत्री सिंहदेव को बताया कि स्वास्थ्य विभाग की ओर से उन्हें आंध्रप्रदेश के श्रीकाकुलम ले जाया गया था,

61 लाख 96 हजार की लागत से तैयार होगा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भवन बताया कि किडनी की बीमारी से

मंत्री टीएस सिंहदेव ने आज सुपेबेड़ा के दौरे के दौरान 61 लाख 96 हजार की लागत से तैयार होने वाले प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भवन का भूमिपूजन किया। मंत्री ने कहा कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बनने से सुपेबेड़ा के साथ ही आसपास के लोगों को

समय पर प्राथमिक उपचार मिल पायेगा। मंत्री ने कहा कि सुपेबेड़ा के लोगों को बेहतर इलाज देने के लिए शासन-प्रशासन गंभीर हैं। उन्होंने भरोशा दिलाया कि यहां के मरीजों को इलाज के लिए कही भटकना नहीं पड़ेगा और न ही उन्हें परेशानी होंगी। सरकार

जल जीवन मिशन से मिलेगा पानी

ग्रामीणों द्वारा तेल नदी से पानी + दिए जाने की मांग एक बार फिर उठी है। मंत्री ने कहा कि जब सरकार में आये थे, उस समय जल जीवन मिशन योजना शुरू नहीं थी। ऐसे में सरकार में आते ही सुपेबेड़ा के साथ ही 9 गांवों में पानी पहुंचाने के लिए सुपेबेड़ा जल प्रदाय योजना के तहत नदी से पानी देने कि बात की गई थी. चूंकि अब जल जीवन मिशन शुरू हो गया हैं, ऐसे में हर गांव में हर घर तक शुद्ध पेयजल इसी योजना के माध्यम से पहुंचेगा।


There is no ads to display, Please add some

Related post

ग्राम हीराबतर में आज श्रीमद भागवत महापुराण ज्ञानयज्ञ का आयोजन का तीसरा दिन

ग्राम हीराबतर में आज श्रीमद भागवत महापुराण ज्ञानयज्ञ का…

गरियाबंद – छुरा विकास खंड के ग्राम हीराबतर में नौ दिवसीय श्रीमद भागवत महापुराण ज्ञानयज्ञ का आयोजन किया गया है। जिसमें…
मां लक्ष्मी पूजा उत्सव में शामिल हुए लोकेन्द्र सिंह कोमर्रा ने क्षेत्र में सुख शांति समृद्धि और खुशहाली की कामना

मां लक्ष्मी पूजा उत्सव में शामिल हुए लोकेन्द्र सिंह…

गरियाबंद – बिन्द्रानवागढ़ विधानसभा क्षेत्र के ग्राम महुलकोट एवं करचिया में आयोजित माँ महालक्ष्मी पूजा कार्यक्रम में अखिल भारतीय गोड़वाना गोड़…
नरेंद्र देवांगन जिला अधिवक्ता संघ का  पुनः अध्यक्ष बने

नरेंद्र देवांगन जिला अधिवक्ता संघ का पुनः अध्यक्ष बने

गरियाबंद । गरियाबंद जिला अधिवक्ता संघ में नरेन्द्र देवांगन अधिवक्ता को पुनः सर्व सम्मति से अधिवक्ता संघ का अध्यक्ष चुना गया…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *