आंवला वृक्ष की पूजा कर समस्त ग्राम वासियों को किया गया प्रसाद वितरण

आंवला वृक्ष की पूजा कर समस्त ग्राम वासियों को किया गया प्रसाद वितरण

 

गरियाबंद। छुरा विकासखंड के अंतर्गत ग्राम मुड़ागांव में पूरी श्रद्धा के साथ मनाया गया आंवला नवमी का त्यौहार समस्त ग्रामवासी समेत आसपास के गांव में हिंदू धर्म का परंपरागत त्यौहार ऑवला नवमी यानी अक्षय नवमी का पर्व सोमवार को धूमधाम से मनाया गया। कार्तिक पूर्णिमा की पावन पर्व पर पवित्र नदी में स्नान किया जाता है, और इस दिन स्नान,दान के कार्य बेहद शुभ माने जाते हैं ।पौराणिक कथाओं के अनुसार कार्तिक पूर्णिमा के दिन ही भगवान विष्णु जी ने त्रिपुरासुर राक्षस का वध भी किया था। इसलिए इस दिन को त्रिपुरारी पूर्णिमा भी कहते हैं।सुहागिन महिलाओं द्वारा इस दिन सुबह से निर्जला व्रत रखते हुए आंवला के वृक्ष की पूजा की। इस दिन अनेक लोग व्रत भी रखते हैं, और महिलाओ ने कथावार्ता भी किया अक्षय नवमी के दिन आंवला वृक्ष की नीचे भोजन बनाकर खाने का विशेष महत्व है। इस प्रमुख रूप से श्रीमति कामिन बाई दिवान, देवकुंवर बाई, जीरा बाई, श्रीमति शीतल ध्रुव, तिलेश्वरी, कु.रेखा, नंदनी, मोहनी, श्री गोवर्धन दिवान, छत्तर, श्यामसुंदर, देवलाल, शकेश्वर, भोजराज,डुमेश, रेखराम ध्रुव समस्त बच्चों एवं ग्रामवासी उपस्थित रहे। महिलाओं तथा युवतियों ने दोपहर बाद सामूहिक रूप से आंवला पेड़ के नीचे जाकर पूजा अर्चना की समस्त ग्रामवासीयो को भोजन प्रसाद वितरण किया गया।


There is no ads to display, Please add some

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *